मेन्यू बंद करे

सुकन्‍या समृद्धि योजना – Sukanya Samriddhi Yojana

नवीनतम अपडेट – जुलाई 26, 2020

Sukanya Samriddhi Yojana described in Hindi to let you know about criteria, benefits and returns of this prosperity scheme for girl child.

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) भारत के प्रधनमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल की एक अनूठी सौगात है, यह योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान का एक महत्वपूर्ण अंग है। केंद्र सरकार की इस स्कीम का मुख्य ध्येय है बालिका के नाम पर निवेश और उससे अच्छी रिटर्न्स प्रदान करना, आसान शब्दों में इस योजना से अच्छी ब्याज दर और टैक्स में बचत का लाभ प्राप्त होता है।

माता – पिता को अपनी बेटी के भविष्य के लिए एक निधि जमा करने का अच्छा अवसर देती है सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Scheme)। इस जमा पूंजी को बेटी की शिक्षा और विवाह के समय इस्तेमाल किया जा सकता है।

आज के समय में बेटी के भविष्य से जुड़ी यह बेहतरीन योजना है, इसका लाभ उन सभी माता पिता और अभिभावकों को उठाना चाहिए जिनके घरों में बेटियां हैं। सालाना ₹ 250 न्यूनतम का निवेश आज के समय में ज्यादा मुश्किल नहीं है और इस योजना में पारम्परिक निवेश के अन्य ऑप्शन से अधिक ब्याज मिलता है।

sukanya-samriddhi-yojana

सुकन्‍या समृद्धि योजना परिचय – About Sukanya Samriddhi Account In Hindi

वर्ष 2015 की 22 जनवरी को केंद्र सरकार ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मिशन के तहत सुकन्या समृद्धि (Sukanya Samriddhi Account)जैसी महत्वाकांक्षी और जन कल्याणकारी योजना को हरियाणा के पानीपत से लांच किया था। उस समय यह कयास लगाए गए थे की हरियाणा में लिंगानुपात के असंतुलन के चलते पानीपत से इस योजना को जमीन पर उतारा जा रहा है जिससे लोगों में जागरूकता फैले।

इस योजना के तहत आज के समय में छोटी बचत के हिसाब से सबसे अधिक ब्याज मिलता है, PPF और FD  जैसी पारम्परिक निवेश स्कीम से भी अधिक। साथ ही यह भी सुविधा है की जब आप बेटी की पढाई या उसके विवाह के समय पैसा निकालेंगे तो उस पर कोई टैक्स भी नहीं लगेगा।

वर्तमान ( वित्तीय वर्ष 2020-2021) में इस योजना के तहत 7.6% वार्षिक दर के हिसाब से ब्याज मिलता है। सुकन्या योजना का खाता भारतीय डाक घरों और प्राइवेट व् सरकारी बैंको में खोला जा सकता है।

आइये जानते हैं की सुकन्या समृद्धि स्कीम के नियम कायदे क्या हैं और आर्टिकल के अंत में इससे जुड़े सवाल और जवाब।

सम्बंधित पोस्ट:  UPI क्या है और कैसे इस्तेमाल होता है? UPI in Hindi

सुकन्या योजना के नियम – SSY Account Eligibility

  • यह खाता बालिका में माता-पिता / अभिभावक खोल सकते हैं
  • खाता खोलने के समय बालिका की आयु 0 – 10 वर्ष तक होनी चाहिए
  • हालाँकि खाता बालिका के नाम से होगा पर उसके माता-पिता/ अभिभावक उसे ऑपरेट करेंगे
  • बालिका का जन्म प्रमाणपत्र खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज है
  • एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम ₹ 250 जमा करने होंगे और अधिकतम ₹ 1,50,000
  • न्यूनतम राशि जमा न होने पर वार्षिक ₹ 50 की पेनल्टी भी लगती है
  • अधिकतम 2 बेटियों में नाम से अलग-अलग सुकन्या समृद्धि खाते खोले जा सकते हैं। यदि जुड़वाँ बेटियां हैं तो 3 अलग-अलग खाते भी खोले जा सकते हैं
  • इस योजना में जमा राशि इनकम टैक्स के सेक्शन 80(C) के तहत छूट प्राप्त है। परिपक्वता पर धन निकासी भी टैक्स फ्री होगी
  • खाता खोलने के बाद 15 वर्ष तक पैसा जमा किया जा सकता है , और परिपक्वता का समय अकाउंट खोलने की तिथि से 21 वर्ष है
  • पैसा बीच में नहीं निकाला जा सकता, बेटी की उच्च शिक्षा या विवाह के समय ही निकाला जा सकेगा
  • पोस्ट ऑफिस या सरकारी/प्राइवेट बैंक में अकाउंट खोला जा सकता है।

Sukanya Scheme FAQ – सुकन्या योजना से जुड़े सवाल-जवाब

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट कहाँ खोलें?

अपने घर के नजदीकी डाकघर से संपर्क करें, या फिर किसी सरकारी या निजी बैंक की शाखा में संपर्क करें।

मेरी बेटी के नाम जीवन बीमा और FD भी हैं , क्या तब भी सुकन्या योजना का लाभ लिया जा सकेगा?

जी हाँ, ऐसी कोई बंदिश नहीं है। यदि बिटिया के नाम पर अन्य निवेश हैं तो कोई समस्या नहीं है। आप सुकन्या खाता खोल सकते हैं।

क्या सरकार सुकन्या अकाउंट में शुरू में कुछ पैसा देती है?

जी नहीं, आप को ही पैसा जमा करना होता है। सरकार केवल उस पर ब्याज देती है। ठीक वैसे जैसे FD करने पर या PPF खाते पर मिलता है।

क्या यह खाता एक बैंक से दूसरे बैंक में ट्रांसफर हो सकता है?

जी हाँ, आपको अपने वर्तमान बैंक या पोस्ट ऑफिस में एप्लीकेशन देनी होगी और खाता आसानी से ट्रांसफर हो जायेगा।

सुकन्या अकाउंट में पैसा कैसे जमा करें?

आप नकद, चेक , ड्राफ्ट या ऑनलाइन इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा पैसा जमा कर सकते हैं।

एक साल में कम से कम कितना जमा करना होगा?

एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम ₹ 250 जमा करने होंगे। ऐसा न कर पाने की स्थिति में ₹ 50 का जुर्माना होगा।

सुकन्या अकाउंट के लिए क्या-क्या डॉक्यूमेंट चाहियें?

1. सुकन्या समृद्धि योजना फॉर्म (डाकघर या बैंक से प्राप्त होगा)
2. बालिका का जन्म प्रमाणपत्र
3. माता-पिता/अभिभावक का आइडेंटिटी प्रूफ (पैन कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट आदि)
4. माता-पिता/अभिभावक का एड्रेस प्रूफ (ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, राशन कार्ड आदि)

आप सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़े अपने सवाल निचे कमैंट्स में लिख कर हमसे पूछ सकते हैं, इस जानकारी को अपने मित्र रिश्तेदारों से शेयर भी करें।

Posted in फाइनेंस

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *